Whatsapp Breakup Status in Hindi For Girlfriend and Boyfriend

By | June 4, 2020

Whatsapp Breakup Status in Hindi For Girlfriend and Boyfriend:-

sad girl

बताओ क्या मिला तुमको भला हमसे खफा हो के,
सुना है तुम भी तनहा हो अब हमसे जुदा हो के…

 

तूने दुनिया की ये क्या रीत बनाई है ऐ खुदा जिनसे दिल मिल जाते है वो अक्सर छोड़ कर चले जाते हैं।

 

 

“अनजाने में उससे मोहब्बत हो गई,
और फिर मोहब्बत करके वो हमसे अनजान हो गए।”
मेरा अरमान था तेरे संग जीवन बिताने का,
शिकवा है तो बस तेरे खामोश रह जाने का,
दीवानगी इस से बढ़कर और क्या होगी,
आज भी इंतजार है तेरे वापस आ जाने का…

जिसको हमारा शोर तक सुनाई नहीं देता, हम उसकी खामोशियाँ तक सुनना चाहते हैं

 

 

जो हमारे साथ ही रहना नहीं चाहता, फिर क्यों हम उसके पीछे चले जाते हैं।
जो भी आता है, एक नयी चोट देकर,
चला जाता है..माना मजबूत हूं मैं,
लेकिन, पत्थर तो नहीं..!
चाह कर भी उनका हाल नहीं पूछ सकते डर है कहीं कह ना दे कि ये हक्क तुम्हे किसने दिया
“बस यही ‘सोच’ कर तुमसे “नज़र” मिला ली है कि
नये ‘ज़ख़्मों’ के लिए इस “दिल” में ‘जगह ख़ाली’ है!”

बात करने का दिल तो अभी भी बहुत करता है उनसे, लेकिन अब और उनके बिच फासले बहुत है।

 

 

उसका वादा भी अजीब था,
कि ज़िन्दगी भर साथ निभाएंगे,
मैंने भी ये नहीं पूछा की,
मोहब्बत के साथ,
या यादों के साथ..

 

 

भुला दूंगा तुझे ज़रा सब्र तो कर , तेरी तरह मतलबी बनने में थोड़ा वक़्त तो लगेगा ही।

 

 

तुम लाख दुआ करलो,
मुझसे दूर जाने की…
मेरी दुआ भी उसी खुदा से है,
तुझे करीब लाने की…

 

 

अगर रिश्तों को बचाने की जरूरत पड़े तो समझ लो की वो रिश्ता कब का टूट चूका है।

“यादों की किम्मत वो क्या जाने जो ख़ुद यादों को मिटा दिए करते हैं,
यादों का मतलब तो उनसे पूछो जो, यादों के सहारे जिया करते हैं।”

प्यार सभी करते हैं मगर कोई दिल से करता है तो कोई दिमाग से करता है।

 

प्यार वो गुनाह है,
जो करते तो सभी है,
लेकिन तकलीफ बस,
वफ़ा करने वालों को ही मिलती है…

 

 

मेरे ज़ख्मो पर कुछ इस तरह से नमक लगाती है वो.
इश्क़ की बाते करती है और दोस्त बुलाती

 

 

जो बीत गया सो बीत गया…आने वाला सुनहरा कल है वो…..मैं कैसे भुला दूँ दिल से उसे… मेरी हर मुश्किल का हल है वो

 

 

“मुझ को अब तुझ से भी मोहब्बत नहीं रही,
ऐ ज़िंदगी तेरी भी मुझे ज़रूरत नहीं रही,
बुझ गये अब उस के इंतेज़ार के वो जलते दिए,
कहीं भी आस-पास उस की आहट नहीं रही”

जहाँ आपकी अहमियत न हो वहाँ जाना बंद कर दो चाहे वो किसी का घर हो या किसी का दिल…

 

ऐ सनम कभी प्यार मत करना,
हो जाए तो इंकार मत करना,
निभा सको तो निभा देना,
लेकिन किसी की ज़िन्दगी बरबाद मत करना…

 

 

आज़ाद कर दिया हे हमने भी उस पंछी को …,जो हमारी दिल की कैद में रहने को तोहीन समजता था ..।

 

 

अपना बनाकर भुला रहा है कोई,
ख्वाब दिखा कर रुला रहा है कोई,
उसकी मौजूदगी से चलती है मेरी साँसे,
ये जानते हुए भी दूर जा रहा है कोई…

 

 

“तेरी बेवफाई ने मेरा ये हाल कर दिया है,
मैं नहीं रोती, लोग मुझे देख कर रोते हैं..!!”

 

 

“उतर जाते है कुछ लोग दिल में इस कदर इन्हे दिल से निकालो तो जान निकल जाती है…”

 

गलती होने पर साथ छोड़ने वाले तो
बहुत मिलते है पर,
गलती होने पर समझाकर साथ
निभाने वाले बहुत कम मिलते है…

 

 

सच्ची मोहब्बत थी इसलिए जाने दिया, हवस होती तो बिस्तर पर होती।

 

“पीने को तो पी जाऊं ज़हेर भी उसके हाथो से मैं
पर शर्त ये है की गिरते वक़्त वो अपनी बाहों में संभाले मुझको”

बिन बताये उसने ना जाने क्यों ये दूरी कर दी,
बिछड़ के उसने मोहब्बत ही अधूरी कर दी,
मेरे मुकद्दर में गम आये तो क्या हुआ,
खुदा ने उसकी ख्वाहिश तो पूरी कर दी।

 

 

“अगर ख़ुशी मिलती है उसे हम से जुदा होकर;
तो दुआ है ख़ुदा से कि उसे कभी हम ना मिलें..!!”

किसी की अनमोल चाहत को, मजाक में मत लेना..
किसी से दिल लगा के, तोड़ न देना..
जिस को तुम्हारे बिना जीने की आदत न हो..
उसको अकेले जीने के लिए, छोड़ न देना…

 

 

समेट कर ले जाओ अपने झूठे वादों के अधूरे क़िस्से, अगली मोहब्बत में तुम्हें फिर इनकी ज़रूरत पड़ेगी

 

 

“कितनी आसानी से कह दिया तुमने
की बस अब तुम मुझे भूल जाओ
साफ साफ लफ्जो मे कह दिया होता
की बहुत जी लिये अब तुम मर जाओ”

 

 

“न कर मोहब्बत ये तेरे बस की बात नहीं, वो दिल मोहब्बत करते हैं जो तेरे पास नहीं!”

 

 

“चाहने से कोई चीज अपनी नहीं होती,
हर मुस्कुराहट हमेशा खुशी की नहीं होती,
अरमान की तो भूख होती है इस दिल में,
मगर कभी वक्त तो कभी किस्मत साथ नहीं होती”

 

 

मुस्कुराने की आदत भी,
कितनी महंगी पड़ी हमको,
उसने छोड़ दिया कहकर,
तुम तो अकेले भी खुश रह लेते हो…

 

गजब का प्यार था उसकी
उदास आँखों में..
महसूस तक ना होने दिया की,
वो बिछड़ने वाला है…

 

 

मेरे दिल को अब किसी से गिला नही,
मन से जिसे चाहा वो मिला नही,
बदनसीबी कहू या वक्त की बेवफाई,
अँधेरे में एक दीपक मिला वो भी जला नही…

 

 

“आखिरी बार तेरे प्यार को सजदा कर लूँ ,
लौट कर फिर तेरी महफ़िल में ना आएंगे ,
अपनी बर्बाद मोहब्बत का जनाज़ा लेकर ,
तेरी दुनिया से बहुत दूर चले जायेंगे”

 

 

जिंदगी की राहो मे इश्क ना मिले,
इस बेदर्द जमाने से कुछ ना मिले,
हम गम क्यो करे की वो हमे ना मिले,
अरे गम तो वो करे जिन्हें हम ना मिले…

 

 

अगर इतनी ही नफरत है हमसे तो,
दिल से कुछ ऐसी दुआ करो,
की आज ही तुम्हारी दुआ भी पूरी हो जाये,
और हमारी ज़िन्दगी भी…!

 

 

“तुम्हारी हर बात बेवफाई की कहानी है,
लेकिन तेरी हर एक साँस मेरी ज़िन्दगी की निशानी है ,
तुम आज तक समझ नहीं पाई मेरे इस प्यार को ,
मेरे आँसू भी तुम्हारे लिए सिर्फ पानी है”

 

 

प्यार का मतलब सिर्फ साथ रहना नहीं होता,
किसी की ख़ुशी के लिए उनसे दूर हो जाना भी प्यार है।

 

 

“यूहीं किसी की याद मे रोना फ़िज़ूल है,
इतने अनमोल आँसू खोना फ़िज़ूल है,
रोना है तो उनके लिये जो हम पे निसार है,
उनके लिये क्या रोना जिनके आशिक़ हज़ार है”

 

 

“वो भी हमारी ख़ामोशी पर शक करने लगे,
जिनको हमारा बोलना कभी पसंद हीं नहीं था”

कहाँ मिलता है कोई समझने वाला,
जो भी मिलता है समझा के चला जाता है।

 

 

मेरे जाने के बाद ही तुम्हें एहसास होगा,
मेरा होना क्या था और मेरा न होना क्या है.

 

 

“जब होने लगता है किसी की मोहब्बत पर यकीन,
फिर यूँ होता है की वो शख्स दिल तोड़ जाता है !!”

 

 

“वो सुना रहे थे.. अपनी वफाओ के किस्से
हम पर नज़र पड़ी तो खामोश हो गए..!”

दिल को न जाने क्यों तोडा उसने,
बिच राह में ही साथ छोड़ा उसने,
जब ऐसे ही जाना था उनको,
तो फिर ये रिश्ता क्यों जोड़ा उसने…

 

 

Maine Tujhe Us Time Chaha Jab Tera Koi Naa Tha
Tune Mujhe Us Waqt Choda Jab Tere Siwa Mera Koi Naa Thaa.!!

 

 

Tum Kitna Bhi Is Dil Ko Dard De Do,
Lekin Ye Dil Phir Bhi Tumhe Apna Hi Kahega…

 

 

“भूला दूँगा.. तुम्हे भी,
थोड़ा सबर रखना!!
तुम्हारी तरह बेवफा होने में,
थोड़ा वक्त लगेगा!!”
ऐ खुदा मोहब्बत भी तूने क्या अजीब चीज बनाए हैं,
तेरे ही बन्दे तेरे ही मंदिर में तेरे ही सामने खड़े हो कर रोते हैं
लेकिन तुझे पाने के लिए नहीं किसी और को पाने लिए।
“खुद को माफ़ नहीं कर पाओगे,
जिस दिन जिंदगी में हमारी कमी पाओगे..”
“ऐ दिल थोड़ी सी हिम्मत कर ना यार,
दोनों मिल कर उसे भूल जाते है”

खुदा सलामत रखना उनको,
जो हमसे नफरत करते है,
प्यार न सही नफरत ही सही,
नफरत के बहाने वो हमे याद तो करते है…

 

 

मैंने कहा उनसे छोड दो या तोड दो मेरे दिलको,
मुस्कुरा कर सितम ढाया उन्होंने,
छोड तो दिया ही है तुमको,
दिल तुम्हारा खुद-ब-खुद टूट जाएगा…!

 

 

“इतनी मुश्किल भी ना थी राह मेरी मोहब्बत की,
कुछ ज़माना खिलाफ हुआ, कुछ वो बेवफा हो गए।”
कुछ मिला और कुछ मिलते-मिलते छूट गया
शायद सपना था आंखें खुलते ही टूट गया।
“तलाश कर मेरी कमी को अपने दिल में एक बार
दर्द हो तो समझ लेना मोहब्बत अभी बाकी है”
“मोहब्बत खो गयी मेरी,
बेवफ़ाई के दलदल में,
मगर इन पागल आँखो को,
आज भी तेरी तलाश रहती है”

Leave a Reply

Your email address will not be published.